Friday, 17 September 2021

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने Home Loan किया सस्ता, अब सभी को मिलेगा 6.7 परसेंट पर लोन

लोन लेने वाले कस्टमर्स को 0.45 फीसद सस्ता कर्ज मिलेगा। इससे करीब आठ लाख रुपए तक की बचत हो सकती है।
घर खरीदने का सपना देख रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। देश की सबसे बड़ी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) ने होम लोन (Home Loan) पर बड़ी राहत दी है। एसबीआई (SBI) ने त्योहार का सीजन देखते हुए क्रेडिट स्कोर लिंक्ड होम लोन 6.7 परसेंट कर दिया है। चाहे लोन की रकम कितनी भी हो। स्टेट बैंक की ओर से जारी प्रेस रिलीज के अनुसार फिलहाल 75 लाख से ज्यादा होम लोन पर 7.15 प्रतिशत ब्याज दर लगता है।
एसबीआई (SBI) ने कहा कि फेस्टिवल ऑफर्स की शुरुआत से 75 लाख रुपए से ज्यादा लोन लेने पर ग्राहक को भी 6.7 प्रतिशत की न्यूनतम दर पर होम लोन मिलेगा। प्रेस रिलीज में कहा गया है कि इस स्पेशल ऑफर के अंतर्गत 30 साल के लिए लोन लेने वाले कस्टमर्स को 0.45 फीसद सस्ता कर्ज मिलेगा। इससे उनकी करीब आठ लाख रुपए की बचत होगी।
वहीं नॉन-सैलरीड ग्राहकों के लिए लागू ब्याज दर सैलरीड पर लागू दर से 0.15 प्रतिशत अधिक हुआ करती थी। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अब दोनों के बीच के अंतर को समाप्त कर दिया है। एसबीआई ने कहा कि होम लोन लेने वालों से कोई बिजनेस-लिंक्ड ब्याज प्रीमियम नहीं लिया जा रहा है। ऐसे में नॉन सैलरीड को 0.15 प्रतिशत की ज्यादा बचत होगी।

एसबीआई ने प्रोसेसिंग फीस पर भी छूट दी है। कस्टमर्स के क्रेडिट स्कोर के आधार पर आकर्षक ब्याज देगा। स्टेट बैंक ने कहा कि हमने ऑफर को समावेदी बना दिया है। यह सभी वर्गों के लिए उपलब्ध हैं। 6.7 प्रतिशत होम लोन ऑफर बैलेंस ट्रांसफर के केस पर भी लागू है। बैंक के प्रबंध निदेशक सी.एस सेट्टी ने कहा, त्योहारी सीजन में जीरो प्रोसेसिंग फीस और रियायती ब्याज दर मकान खरीदने को अधिक सहूलियत देगी। एसबीआई ने बेस रेट और प्राइम लेंडिंग रेट को भी कम कर दिया है।

https://www.naidunia.com/business/trade-state-bank-of-india-offer-home-loand-at-6-7-percent-irrespective-of-loan-amount-and-waives-processing-fees-7040441

Ashish 
9971887571

No comments:

Post a Comment

Property Transfer Charge: अब नोएडा में फ्लैट बेचने में होगी आसानी, अथॉरिटी देने वाली है बड़ी राहत

हाइलाइट्स noida के लोग प्रॉपर्टी ट्रांसफर चार्ज में पिछले कुछ दिनों में की गई तेज वृद्धि को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। नोएडा अथॉरिटी की अ...